Tips for improving relationship between brother & sister in Hindi

Tips for improve relationship between brother and sister भाई बहन का रिश्ता बहुत ही अनोखा और नटखट होता है। बहनें अपने भाइयों से और भाई अपनी बहनों से अपने दिल की बात शेयर करते हैं और एक दूसरे को आवश्यकता पड़ने पर सपोर्ट भी करते हैं।

भाई बहन का रिश्ता एक ऐसा एहसास होता है, जो प्रतीत होता है, कि परिवार में यदि हम अपनी किसी भी समस्या या सुख-दुख को साझा कर सकते हैं, तो वह केवल भाई और बहन का एक रिश्ता है।

हमारे भारतीय संस्कृति में भाई बहन के रिश्ते को काफी महत्वता प्रदान की जाती है। मगर जीवन में कभी ऐसी परिस्थितियां भी उत्पन्न हो जाती हैं, जब भाई बहन के अनमोल रिश्ते के बीच दरार उत्पन्न हो जाती है।

ऐसे में यदि भाई-बहन के पावन रिश्ते में दरार आ जाए, तो यह बिल्कुल भी सही नहीं होता है। इस अमूल्य रिश्ते के बीच दरार पड़ने का कारण कोई भी हो सकता है, परंतु यदि हम इस रिश्ते के महत्वता को समझें और इस का आदर करें, तो हमें इस रिश्ते को बचाने के लिए सभी प्रयत्न करने चाहिए और यह प्रयत्न भाई बहन दोनों की तरफ से हो सकते हैं।

हमारी भारतीय संस्कृति भाई बहन के रिश्ते को एक विशेष रूप प्रदान करने के लिए रक्षाबंधन के पावन त्यौहार को भी मनाने का एक महत्वपूर्ण प्रचलन है। यदि आप रक्षाबंधन के इस पावन त्यौहार में अपने भाई बहन के खेतों में पड़ी कड़वाहट को मिटाना चाहते हैं, तो हमारा यह लेख आपके पावन रिश्ते को समर्पित है। कृपया आप हमारे इस महत्वपूर्ण और भाई बहन के रिश्ते के बीच कड़वाहट को मिटाने वाले लेख को अंतिम तक अवश्य पढ़ें।

भाई-बहन की रिश्तो में दरार पड़ने के कारण ? (Reason for broken relationship between brother and sister)

“आज के समय में लोग इतने व्यस्तता पूर्ण तरीके से जीवन को जी रहे हैं, कि करीबी  एवं परिवार वालों के लिए एक महत्वपूर्ण समय नहीं दे पा रहे हैं।“भाई बहन का रिश्ता बहुत ही नाजुक और प्यारा सा होता है। ऐसे रिश्ते में दरार अनेकों कारणों की वजह से आ सकती है।रिश्ते में दरार पैदा करने वाले कारण भाई या फिर बहन के तरफ से भी उत्पन्न हो सकते हैं। जहां पर भाई एक पिता के तुल्य होता है और वह समस्याओं को बिना कहे ही समझ लेता है। वहीं पर बहने भाइयों की सबसे बड़ी दोस्त होती है और बिना कहे उनकी समस्याओं को समझ कर उसके निवारण के लिए अनेकों प्रयत्न करती हैं।

भाई बहन के रिश्ते को सही करने के लिए क्या – क्या तरीके हो सकते ?(Best tips for improving relationship of brother and sister)

जितनी जल्दी हम इस पावन रिश्ते को सुधारने के लिए प्रयत्न करें उतना ही अच्छा है। जब ऐसे रिश्तो में लंबे समय तक दरार बनी रहती है, तो यह रिश्ता कभी भी दोबारा से सामान्य नहीं हो सकता और समय के साथ-साथ रिश्तो में और भी ज्यादा समस्याएं उत्पन्न और जटिल होने लगती हैं। आइए जानते हैं, कि आप किस प्रकार से अपने इस रिश्ते को सुधारने और दोबारा से इसमें मिठास पहले जैसे भरने के लिए क्या-क्या तरीके अपना सकती हैं। इन तरीकों का पालन बहन या फिर भाई की तरफ से इस रिश्ते को बचाने के लिए किए जा सकते है।


how to improve relationship,
  • रिश्तो में पड़े दरार की जड़ तक जाए :-

    हमने देखा है, कि अक्सर लोग रिश्तो में पड़े दरार की जड़ तक जाने की वजह एक दूसरे के साथ फिजिकल फाइट करने लगते हैं। किसी भी समस्या का निवारण लड़ने से नहीं प्राप्त होता है, हमें सबसे पहले समस्या क्या है, उस पर बैठकर गहन चिंतन करना चाहिए। भाई-बहन के पवित्र रिश्ता में आई दरार जिस वजह से आई है, उस पर आपको सबसे पहले एक दूसरे के साथ खुलकर बात करनी चाहिए। रिश्तो में किस वजह से कड़वाहट पैदा हुई है, उसकी जड़ तक जाएं और उसके निवारण हेतु एक दूसरे से परामर्श करें।


  • अपनी समस्याओं और अपनी पसंद नापसंद को एक दूसरे के साथ साझा करें :-

    सबसे बड़ी बात यह है, कि भाई या बहन दोनों को अपनी फीलिंग को एक दूसरे के साथ अवश्य साझा करना चाहिए। ऐसा करने से आप एक दूसरे की फीलिंग को समझ सकते हैं और रिश्तो में आई दरार को मिटाने में यह आपकी सहायता भी कर सकता है। कभी-कभी होता है, जब भाइयों को बहनों की कुछ बातें पसंद नहीं आती है या उनका कुछ कार्य पसंद नहीं रहता है। इसीलिए आप को चाहिए, कि आप अपनी बातों को खुलकर अपनी बहन के साथ साझा करें और दरारों को मिटाने का प्रयास करें। कभी ऐसा होता है, कि बहनों को भाइयों की कुछ बात या फिर कुछ कार्य बिल्कुल पसंद नहीं आते हैं, परंतु वे उनसे खुलकर कह नहीं सकती ऐसा नहीं करना चाहिए आपको आपको अपनी फीलिंग को उनके साथ साझा करना चाहिए और उन्हें बताना चाहिए कि आपको क्या सही लग रहा है और क्या गलत लग रहा है। ऐसा अगर आप नहीं करेंगे तो आपके मन में नकारात्मक विचार अपने भाई के प्रति आने लगेंगे, जो कि बिल्कुल भी उचित नहीं होगा।

  • हर दुख सुख की बातों को एक दूसरे के साथ करें साझा :-

    improve relationship between brother and sister भाई बहन का रिश्ता बहुत ही मित्रता वाला भी होता है और इसमें हमें एक दूसरे के साथ दुख सुख की बातें भी शेयर करनी चाहिए, ऐसा करने से रिश्ते में मिठास और रिश्ता मजबूत होता है। बहनों को चाहिए कि यदि किसी समस्या का सामना कर रही है, तो उन्हें अपनी समस्याओं के बारे में अपने भाई से बताना चाहिए,ऐसा करने से आपका भाई आपकी समस्या का निवारण भी करेगा और आपके प्रति उसका विश्वास भी बढ़ जाएगा।भाइयों को भी चाहिए, कि जो बात उचित हो उसे अपनी बहन के साथ अवश्य साझा करें, ऐसा करने से बहने आपके ऊपर विश्वास जताने लगती हैं और आपके साथ हर बात को साझा करना चाहती हैं।

  • दूरियां होने पर भी एक दूसरे के साथ कनेक्ट रहें :-

    improve relationship between brother and sister कभी ऐसा होता है, जब हमें अपने परिवार को छोड़कर दूर रहना पड़ता है और कभी-कभी ही हम अपने परिवार से मिलने पहुंच पाते हैं। परिवार से बिछड़ने का कारण पढ़ाई, नौकरी आदि भी हो सकते हैं। आपका भाई आपसे दूर है या फिर आपकी बहन आपसे दूर है, तो आपको चाहिए कि समय मिलने पर अवश्य उसे कौन कॉल पर अपने जीवन में घटित बातों को साझा करें और एक-दूसरे के सुख-दुख के बारे में अवश्य पूछें। ऐसा करने से आप के बीच दूरियां होने के बावजूद भी आप एक-दूसरे के साथ बेहद गरीब रहेंगे। ऐसे आपका रिश्ता अटूट और मजबूत बन जाता है।

  • एक दूसरे का सीक्रेट पता होने के बाद भी कभी भी परिवार में इसे साझा ना करें :-

    भाई बहन का रिश्ता ऐसा होता है, जिसमें एक दूसरे के काफी ज्यादा सीक्रेट चीजें भाई बहनों को पता होती है। ऐसे में यदि आप सीक्रेट को अपने परिजन के साथ सांझा करके अच्छा लड़का और अच्छी लड़की बनने का प्रयास करते हैं, तो आपके रिश्ते में कड़वाहट पैदा होने की संभावनाएं बढ़ने लगती है और अंत में आप एक दूसरे को देखना पसंद नहीं करते हैं। ऐसे में आपको यदि एक दूसरे की सीक्रेट पता भी हो, तो आप उन्हें राज रखने का एक दूसरे के साथ वादा करें और ऐसे आपका रिश्ता मजबूत और मिठास वाला बनता है।

  • कभी एक दूसरे के लिए करें कुछ स्पेशल :-

    improve relationship between brother and sister बहन भाई का प्यार ऐसा होता है, कि उसे कई लोग एक दूसरे के प्रति जता नहीं पाते हैं। हमें एक दूसरे के प्रति प्रेम को अवश्य बताना चाहिए, ऐसा करने से हमें एक दूसरे की महत्वता समझ में आती है। इसके लिए हम बहनों को समय-समय पर गिफ्ट आदि दे सकते हैं और बहने भाइयों को कुछ स्पेशल डिस बनाकर या कुछ उनके लिए अलग कर सकती हैं, जिससे भाइयों को भी प्रसन्नता होती है।

  • कभी भी एक दूसरे को किसी बाहरी व्यक्ति या परिवार के सामने ना डालें :-

    अक्सर होता है, कि हम एक दूसरे को किसी बाहरी व्यक्ति या परिवार के सामने डांटते हैं, ऐसा बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए यह बिल्कुल गलत है। अगर आप सबके सामने एक दूसरे को डाटेंगें, तो आपको इंसल्ट वाली फीलिंग होगी और यह बिल्कुल भी सही नहीं होता है। इसलिए आपको चाहिए कि यदि कोई समस्या है या फिर कोई गलती है, तो आप उसे एकांत में जाकर एक दूसरे के साथ समझ बूझ सकते हैं। ऐसा करने से आपका एक दूसरे के प्रति आपका विश्वास बढ़ता है।

  • अभी भी बात बात पर आप एक दूसरे को ना टोकें :-

    चीजों को समझाना अलग है कभी-कभी होता है कि जब हम सही कार्य नहीं करते हैं तो उसे सही प्रकार पर करने के लिए हमें एक दूसरे को कुछ ना कुछ बताना पड़ता है। यह बिल्कुल सही है, परंतु छोटी-छोटी बातों पर एक दूसरे को टोकतें रहेंगे, तो ऐसा बिल्कुल भी सही नहीं है। ऐसा करना उचित नहीं होता और आपको बार-बार रोक-टोक नहीं करना चाहिए, ऐसे रिश्तो में दूरियां बढ़ने लगते हैं।

बचपन की गलतियों एवं बचपन के पलों को एक दूसरे के साथ अवश्य साझा करें :-

improve relationship between brother and sister जब बहनों की शादी हो जाती है और वेे अपने ससुराल चली जाती हैं, तब आपका अपनी बहन से दूरी बढ़ जाता है। कभी हमें किसी कार्यों, पढ़ाई या फिर जॉब से संबंधित एक दूसरे से दूर रहना पड़ता है। ऐसे में “जब हम कभी स्पेशल ऑकेजन या फिर से घर  में एक साथ एकत्रित हो, तो हमें मिलकर पुराने बचपन के दिनों को याद करना चाहिए।“ हमें उन गलतियों को याद करना चाहिए, जब हमने उसे साथ में मिलकर अंजाम दिया हो।

हमें उन छोटे छोटे सभी पलों को याद करना चाहिए जो हमारे जीवन में कभी न कभी महत्वता प्रदान किए हो या फिर खुशियां प्रदान किए हैं। ऐसा करने से हमारे बीच फिर से वही प्यार और वही केयरिंग वाला फिलिंग वापस आने लगता है। “ऐसे ही भाई-बहन के रिश्तो के प्यार में मधुरता आती और यह रिश्ता अटूट बनता है। “


भाइयों के जीवन में बहनों का क्या स्थान होता है ?(Importance of sister in the lives of brothers)

improve relationship between brother and sisterसभी बहने अपने भाइयों के प्रति एक मां के रूप में कार्य करती और अपने भाइयों के लिए हर चीज समर्पण कर सकती हैं, जो उन्हें सफल बनाने के लिए आवश्यक है।“  जिस प्रकार से मां अपने बच्चों को बचाने के लिए कुछ भी कर सकती है, उसी प्रकार से अपने भाइयों के लिए कुछ भी कर सकती हैं। “बहने बिना किसी शर्त और बिना किसी मोल के अपने भाइयों के साथ हमेशा खड़ी रहती हैं।“

बहनों के जीवन में  भाइयों का क्या स्थान होता है ? (Importance of brothers in the lives of sister)

“बहनों के लिए भाई एक प्रकार से पिता के समतुल्य होता है। जिस प्रकार से पिता अपने बेटी के रक्षा के लिए कुछ भी करता है, उसी प्रकार से भाई भी अपनी बहन के लिए कुछ भी करता है, जो उसके हित के लिए आवश्यक है।“ इसीलिए कभी भी बहनों को चाहिए, कि अपने भाइयों का आदर सत्कार करें।

कैसे रक्षाबंधन का त्यौहार भाई बहन के रिश्ते को मजबूत बनाता है ? (How the festival of raksha bandhan strengthen the relationship of brothers and sisters)
relationship tips for brother and sister

भाई बहन के पावन रिश्तों को समर्पित हिंदू धर्म में रक्षाबंधन के त्यौहार को बहुत ही महत्वता प्रदान की जाती है।रक्षाबंधन का पर्व भाई-बहन के रिश्ते को मजबूती प्रदान करता है और यह संकल्प देता है, कि दोनों एक दूसरे का साथ  कठिन समय में भी देंगे । ऐसा बिल्कुल भी नहीं है, कि रक्षाबंधन का त्यौहार केवल भाई बहन ही मना सकते  हैं। यदि परिवार में दो बहने हैं या फिर दो भाई हैं, तो वह भी इस पावन त्यौहार को मना सकते हैं और एक दूसरे के रिश्ते को मजबूत और मिठास से भर सकते हैं।

रक्षाबंधन के पावन त्यौहार को एक भाई दूसरे भाई को राखी बांधकर एवं एक बहन अपनी दूसरे बहन को राखी बांधकर मना सकती है। यह त्यौहार राखी के धागे जरिए एक दूसरे में हुई दूरियों को कम करता है और एक दूसरे को क़रीब लाता है। इतना ही नहीं आपस में हुए मतभेद को भी यह त्यौहार खत्म करता है। आज के इस आधुनिक समय में लोगों के पास समय की कमी है, जिसकी वजह से और रिश्तो में एक अलग ही तरह की दूरियां बनती जा रही हैं।

समय की कमी के वजह से परिवार के लोग एक दूसरे से बात नहीं करते जिसकी वजह से उनके बीच में मतभेद एवं गलतफहमी  का स्थान पैदा होने लगता है। यही एक ऐसा पावन त्यौहार है, जो इन सभी नकारात्मकता को खत्म करने के साथ–साथ भाई–बहन के  रिश्तो में आई दूरियों को खत्म करता है।आज के समय में भी इस पावन पर्व की महत्वता खत्म नहीं हुई है, आज भी हिंदू धर्म में लोग बड़े ही धूमधाम एवं धार्मिक मान्यताओं  के साथ मनाते हैं।

भाई बहन के रिश्ते को मिठास करने वाले पावन पर्व रक्षाबंधन वर्ष 2020 में कब है ? (Date of raksha bandhan in year 2020)

भाई बहन को करीब लाने एवं इस रिश्ते को मिठास प्रदान करने वाले रक्षाबंधन का त्यौहार इस वर्ष 3 अगस्त को मनाया जाएगा।

भाई बहन के पावन रिश्ते को समर्पित चंद शब्द हिंदी बातचीत की ओर से :-

हम अपने हिंदी बातचीत वेबसाइट की ओर से भाई-बहन के इस पावन रिश्ते को कुछ चंद शब्दों के माध्यम से एक विशेष रूप प्रदान करना चाहते हैं।


“बचपन से ही बहनें भाइयों की और भाई अपने बहनों के खास दोस्त होते है, इसीलिए यह पावन रिश्ता अपने आप में ही बहुत अनमोल होता है। भाई-बहन के पावन रिश्ते को मजबूत करने के लिए रक्षाबंधन का धागा भाई-बहन के रिश्ते को बांधे रखता है, इसीलिए तो रक्षाबंधन का त्यौहार बहुत ही विशेष होता है।”

(conclusion)  निष्कर्ष :-

भाई बहन की रिश्ते को समर्पित हमारा यह लेख कैसा लगा आप हमें यह अवश्य बताएं। हमारा यह प्रयास है कि हम अपने इस लेख के माध्यम से भाई-बहन के बीच में आई हुई दूरियों को मिटाना चाहते हैं और इस पावन त्यौहार में हम कामना करते हैं, कि आप लोगों का यह रिश्ता स्वस्थ रहें। आज के समय में हमें किसी भी प्रकार के रिश्ते को संभाल कर रखना चाहिए और रिश्तो की महत्वता को समझना चाहिए।यदि आपकी कोई विचार या आपके कोई सुझाव है, तो हमें आप कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। हम आपके द्वारा दी गई प्रतिक्रिया का सम्मान करेंगे। “आप सभी लोगों को राखी के इस पावन पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं।”

1 thought on “Tips for improving relationship between brother & sister in Hindi”

  1. भाई बहन का रिश्ता कैसा होना चाहिए आपने बहुत ही अच्छे तरीके से बताया है, बहुत अच्छा लगा

    Reply

Leave a Comment